स्टंट के दौरान इस कंटेस्टेंट को आंख के पास आए टांके, उंगली का नाखून भी टूट गया पर हिम्मत नहीं हारी, बोला- अगर शो से कभी फोन आए तो बिंदास कर लो


मुंबई सिंगर उदित नारायण के बेटे आदित्य नारायण पिछले दिनों ‘खतरों के खिलाड़ी’ जीतने से सिर्फ एक पायदान पीछे रह गए। हालांकि इसका उन्हें बिल्कुल भी अफसोस नहीं है। उनका लक्ष्य टॉप-3 में आना था और वो इसे कर पाने में कामयाब भी रहे। ‘कलर्स’ के साथ नाता जोड़ चुके आदित्य इन दिनों शो- ‘खतरा खतरा खतरा’ और ‘द राइजिंग स्टार’ कर रहे हैं। dainikbhaskar.com ने आदित्य से बात की तो उन्होंने स्टंट शो के अलावा और भी दूसरी चीजों पर अपनी बात रखी।

आंख के पास आए टांके और नाखून भी टूटा…
आदित्य ने कहा- स्टंट शो ‘खतरों के खिलाड़ी’ में पार्टिसिपेट करने के बाद मुझे काफी चोटें आईं। मेरी आंख के पास तीन टांके आए। मेरी एक उंगली का पूरा नाखून भी निकल गया। हालांकि इसके बावजूद मैंने शो पूरा किया और सेकंड पोजिशन पर रहा। मैंने इस शो को करके अपने बारे में बहुत कुछ सीखा। जिंदगी में आने वाली तकलीफों से डरने के बजाय अब उनका सामना कर सकता हूं। लोगों से यही कहूंगा कि अगर इस शो से कभी फोन आए, तो बिंदास कर लो।

दुख की बात नहीं, खुद की नजर में जीता हूं…
देखिए, ओलंपिक गेम में सिर्फ नंबर वन नहीं होता। उसमें गोल्ड के अलावा सिल्वर और ब्रॉन्ज भी होता है। मैं खुद की नजर में सिल्वर जीता हूं। यही रिजल्ट भी आया है। मैं सेकंड नंबर पर रहा। जितनी मेहनत गोल्ड जीतने में लगती है, उतनी ही मेहनत सिल्वर में भी लगती है। स्पोर्ट्स में कॉम्पिटीटर मिली-सेकंड से हार जाते हैं। इसमें कोई दुख की बात नहीं है। मैं म्यूजिक बैकग्राउंड से आता हूं। कभी ऐसा करूंगा, सोचा भी न था। इस सीजन में 12 खिलाड़ी थे, पर चर्चा सिर्फ दो लोगों (मेरी और पुनीत पाठक) की हुई। मैं इसे हार नहीं कहूंगा।

जिंदगी की रेस में फर्स्ट आना चाहता हूं…
हमारा टारगेट यही होता है कि हम बहुत अच्छा शो बनाएं। यही मंत्र भी है। शो में फर्स्ट, सेकंड और थर्ड तो चलता रहेगा। मैं जिंदगी की रेस में फर्स्ट आना चाहता हूं। नंबर वन, टू और थ्री पर कौन है, यह मेरा आउटलुक नहीं है। यह लोगों का नजरिया है। मेरा मकसद टॉप-3 में बने रहना है। अगर मैं होस्ट कर रहा हूं, तब टॉप-3 में मेरा नाम आता है।

इन दिनों दोशो कर रहा हूं…
मैं इन दिनों ‘कलर्स’ पर ही दो शो कर रहा हूं। पहला कॉमेडी शो ‘खतरा खतरा खतरा’ है, जिसमें एक्टिंग कर रहा हूं। वहीं दूसरा सिंगिंग रियलिटी शो ‘द राइजिंग स्टार-3’ होस्ट कर रहा हूं। ‘खतरों के खिलाड़ी’ करने के बाद मेरी फैन फॉलोइंग बढ़ गई है। यही वजह है कि एक साथ कई कामों में बिजी हूं। हां, ‘द राइजिंग स्टार’ के लिए पहले से बहुत मेहनत करनी पड़ेगी, क्योंकि यहां सब कुछ ला‌इव होगा।

जब होली पर पापा को पिला दी भांग…
आदित्य ने कहा- ”मैं बचपन में होली पर बहुत हुड़दंग करता था। लड़कियों पर पिचकारी मारने और उनके साथ रेन डांस वगैरह करने का एक मौका मिलता था। होली पर मैंने भांग भी खूब पी है। मुझे याद है, जब 21-22 साल का था, तब पापा को चुपके से शरबत में भांग पिला दी थी। हम दोनों भांग पीकर खाना खा रहे थे। लेकिन जब नशा चढ़ा, तब हम दोनों ठहाके लगा-लगाकर हंसने लगे। हमारी हंसी देखकर मम्मी भी हंसने लगीं। फिर तो हम लोग हंस-हसंकर खाना खाए जा रहे थे और गाए जा रहे थे।

(इनपुट : उमेश कुमार उपाध्याय)

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Khatron Ke Khiladi Season 9 Contestant Aditya Narayan Exclusive Interview